सरकार के साथ बोड़ो संगठनों की त्रिपक्षीय बैठक

गुवाहाटी

अलग बोड़ोलैंड तथा अन्य मांगों को लेकर आब्सू और पीजेएसीबीएम के साथ केंद्र तथा राज्य की त्रिपक्षीय बैठक शुरू हो चुकी है| गुवाहाटी के काहिलिपाड़ा स्थित विशेष शाखा मुख्यालय के सभा कक्ष में आयोजित त्रिपक्षीय बैठक में आब्सू तथा पीजेएसीबीएम ने संयुक्त रूप से मांग उठाई कि त्रिपक्षीय वार्ता राजनीतिक स्तर पर होनी चाहिए| बैठक की अगुवाई करने वाले केंद्रीय गृह मंत्रालय के एनई डिवीज़न के संयुक्त सचिव सत्येंद्र गर्ग ने आश्वासन दिया कि उनके राजनीतिक स्तर की वार्ता की मांग को केंद्र सरकार के समक्ष पेश किया जाएगा|

सोमवार से शुरू हुए प्रथम त्रिपक्षीय बैठक में आब्सू और पीजेएसीबीएम के प्रतिनिधियों ने केंद्र तथा राज्य सरकार के प्रतिनिधियों के समक्ष विभिन्न मांग रखे| साथ ही सत्येंद्र गर्ग को एक ज्ञापन भी सौंपा| ज्ञापन में यह मांग की गई है कि बजट अधिवेशन के शुरू होने से पहले राजनीतिक स्तर पर त्रिपक्षीय वार्ता शुरू हो, तत्कालीन प्रभाव के साथ अलग राज्य बोड़ोलैंड गठन के लिए नीति निर्धारण किया जाए, बोड़ोलैंड इलाके के बाहर रहने वाले बोड़ो जनता के राजनीतिक अधिकार सुनिश्चित किए जाए और सभी आंदोलनकारी बोड़ो संगठनों को बोड़ोलैंड के मुद्दे पर संयुक्त रूप से बातचीत के लिए बुलाया जाए|

बैठक में आब्सू अध्यक्ष प्रमोद बोड़ो, सलाहकार खुन्ख्रा स्वर्गियारी, उपाध्यक्ष दीपेन बोड़ो, महा सचिव लारेंस इस्लारी आदि समेत पीजेएसीबीएम के मुख्य आह्वायक गर्जन मुसाहारी और सलाहकार अंद्रियास नार्जारी उपस्थित थे| वहीँ केंद्र तथा राज्य सरकार की तरफ से केंद्रीय गृह मंत्रालय के एनई डिवीज़न के संयुक्त सचिव सत्येंद्र गर्ग के अलावा राज्य सरकार के अतिरिक्त मुख्य सचिव, गृह और राजनीतिक विभाग के प्रिंसिपल सेक्रेटरी, आयुक्त, सचिव और संयुक्त सचिव के साथ ही विशेष शाखा के एडीजीपी पल्लव भटाचार्य आदि उपस्थित थे|


More from NE समाचार