DGP ने किया Counter insurgency and Jungle Warfare प्रशिक्षण विद्यालय का निरीक्षण

गुवाहाटी  

असम पुलिस महानिदेशक मुकेश सहाय ने आज उत्तर गुवाहाटी के मांदाकाता स्थित “Counter insurgency and Jungle Warfare” प्रशिक्षण विद्यालय का निरीक्षण करने के साथ ही विद्यालय के प्रशिक्षार्थियों और कमांडो फोर्स के जवानों के आतंक विरोधी युद्ध कौशलों का भी निरीक्षण किया|

   DGP ने किया Counter insurgency and Jungle Warfare प्रशिक्षण विद्यालय का निरीक्षण  DGP ने किया Counter insurgency and Jungle Warfare प्रशिक्षण विद्यालय का निरीक्षण

मांदाकाता कमांडो बटालियन परिसर में असम के मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल के निर्देश पर शुरू किए गए नए प्रशिक्षण विद्यालय का निरिक्षण कर डीजीपी ने कहा कि आतंकवादियों के किसी भी चुनौती का सामना कर सके इसके लिए असम पुलिस को उनात स्तर पर विभिन्न प्रशिक्षण देने की व्यवस्था की गई है और घने जंगलों में उग्रवादियों के खिलाफ लड़ने के लिए प्रशिक्षण विद्यालय के जरिए विशेषज्ञ प्रशिक्षकों के द्वारा पुलिस के प्रशिक्षार्थियों को प्रशिक्षण प्रदान किया गया है| चरणबद्ध तरीके से उन्हें अधिक उन्नत प्रशिक्षण देने की बात करते हुए पुलिस महानिदेशक ने प्रशिक्षार्थी और कमांडो फोर्स के जवानों की दक्षता की प्रशंसा की|

  DGP ने किया Counter insurgency and Jungle Warfare प्रशिक्षण विद्यालय का निरीक्षण   DGP ने किया Counter insurgency and Jungle Warfare प्रशिक्षण विद्यालय का निरीक्षण

प्रशिक्षण विद्यालय में प्रशिक्षार्थियों के पहले गुट में पुलिस फोर्स के 194 कर्मचारियों को प्रशिक्षण दिया गया है| निरीक्षण के दौरान पुलिस महानिदेशक के साथ अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (प्रशिक्षण और सशस्त्र शाखा) ए. के सिंहा कश्यप, अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक(प्रशासन) के.वी.सिंह देउ, पुलिस महानिरीक्षक(प्रशिक्षण और सशस्त्र शाखा) समेत कई आला पुलिस अधिकारी उपस्थित थे|


More from NE समाचार