वोह ट्रेन के साथ ले रहे थे सेल्फी, पहुँच गए पुलिस स्टेशन

लखनऊ

वोह ट्रेन के साथ सेल्फी लेना चाहते थे लेकिन पहुँच गए पुलिस स्टेशन. ट्रेन के सामने सेल्फी लेने के जुनून में तीन युवकों ने सैकड़ों यात्रियों की जान खतरे में डाल दी. युवकों ने राजधानी एक्सप्रेस आने से कुछ पल पहले ट्रैक पर बड़ी संख्या में पत्थर रखकर मोबाइल और कैमरा लेकर सेल्फी लेने को खड़े हो गए। लेकिन चालक ने आपातकालीन ब्रेक लगाकर ट्रेन को रोक लिया.  ट्रेन न रुकती तो बड़ा हादसा हो सकता था.

बुधवार सुबह सवा पांच बजे पटना से नई दिल्ली जा रही राजधानी एक्सप्रेस  टूंडला से निकली तो चालक को जेडएच कॉलेज के समीप पटरी पर पत्थर रखे दिखाई दिए. कुछ कदम दूर कार के पास तीन युवक हाथों में मोबाइल कैमरा लिए खड़े थे. पलटने का बड़ा खतरा देख चालक ने आपातकालीन ब्रेक लगा दिया.

ट्रेन को सुरक्षित रोकने के बाद लोको पायलट ने इसकी सूचना अर्रपीएफ को दी जिसके बाद तीनों को पकड़ लिया गया. पकड़े गए लड़कों की उम्र 16, 14 और 13 साल है. इनमें एक टूंडला, दूसरा आगरा शहीद नगर और तीसरा ग्वालियर का है और तीनों रिश्तेदार हैं.  पकड़ने के बाद बाद उन्हें जुवेनाइल कोर्ट में पेश किया गया जहां से तीनों को जमानत पर छोड़ दिया गया.

बता दें पिछले महीने ही आगरा डिवीज़न रेलवे पुलिस ने ट्रेन के अन्दर, बहार, या ट्रैक पर सेल्फी लेने को दंडनीय अपराध बताया था. रेलवे ने इस तरह के किसी भी मामले को आईपीसी की धारा 307 (सुसाइड का प्रयास) और रेलवे एक्ट की धारा 154 के तहत कार्रवाई के आदेश दिए था.


More from NE समाचार