एपीएससी नियुक्ति घोटाला मामला, डीजीपी को ही मीडिया से बात करने का अधिकार

गुवाहाटी 

dgp-mukesh-sahayएक आदेश के मुताबिक डीजीपी मुकेश सहाय के अलावा अब कोई भी पुलिस अधिकारी एपीएससी नियुक्ति घोटाले के मामले में मीडिया से बात नहीं कर सकता| इस संबंध में सहाय ने कहा, “सरकार ने केवल इस सिलसिले में मुझे मीडिया से बात करने का अधिकार दिया है, अन्य पुलिस अधिकारी इस मामले में मीडिया से कोई बात नहीं करेंगे| यह एक बड़ा ही संवेदनशील मामला है| किसी के कुछ कह देने से जांच प्रक्रिया में रुकावट ना आ जाए इसलिए डीजीपी होने के नाते यह अधिकार सिर्फ मुझे दिया गया है|”

उन्होंने कहा, “बीच-बीच में मीडिया में पुलिस सूत्रों के हवाले से ख़बरें प्रसारित हो रही है जिसका जांच प्रक्रिया पर बुरा असर पड़ रहा है| आखिरकार हम संवैधानिक कार्यप्रणाली के खिलाफ दर्ज मामले की जांच कर रहे है चूँकि एपीएससी के सदस्य संवैधानिक पद पर है| इसलिए हमें जांच प्रक्रिया को सख्ती से आगे ले जाना है|”

सरकार की तरफ से यह आदेश एपीएससी नियुक्ति घोटाले में राकेश पॉल की गिरफ्तारी के बाद 11 नवंबर को ही जारी किया गया था| सरकार इस मामले में जांच प्रक्रिया में पूरी गोपनीयता बरतना चाहती है और जांच प्रक्रिया में किसी तरह की कोई रुकावट न आए इसलिए डीजीपी के अलावा अन्य पुलिस अधिकारियों को इस मामले में बयानबाजी से दूर रहने का आदेश जारी किया गया है|


More from NE समाचार